राष्ट्र पिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर ब्रिटेन में (रेसीस्ट) नाम के पोस्टर चिपकाए

0

अवामी कवरेज न्यूज :

अमेरिका के मिनीपोलिस में श्वेत पुलिसकर्मी के हाथों हुई अश्वेत अफ्रीकी-अमेरिकी नागरिकी की हत्या के बाद वहां से नस्लभेद के खिलाफ उठी आवाज अब दूसरे देशों में भी पहुंच गई है।

(Black lives matter) कॆ नाम से जर्मनी और ब्रिटेन जैसे देशों में भी इसके खिलाफ विरोध-प्रदर्शन हो रहे हैं। ब्रिटेन में प्रदर्शनकारियों ने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के प्रणेता और पूरी दुनिया को अहिंसा का संदेश देने वाले महात्मा गांधी की पार्लियामेंट स्क्वॉयर में स्थित प्रतिमा के आस-पास रंगभेदी संदेश लिए पोस्टर चिपका दिए और प्रतिमा के चबूतरे पर रेसिस्ट (नस्लभेदी) लिख दिया। 

साल 2015 में स्थापित की गई महात्मा गांधी की यह प्रतिमा पार्लियामेंट स्क्वायर में मौजूद प्रमुख ब्रिटिश, राष्ट्रमंडल और विदेशी राजनीतिक हस्तियों जैसे अब्राहम लिंकन, नेल्सन मंडेला और विंस्टन चर्चिल जैसे लोगों की 12 प्रतिमाओं में से एक है।

वहीं प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने ट्वीट किया, ‘लोगों को शांतिपूर्वक और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए प्रदर्शन करने का अधिकार है लेकिन उनके पास पुलिस पर हमला करने का अधिकार नहीं है। ये प्रदर्शन उस लक्ष्य से कहीं दूर हैं जो इनका मकसद होना चाहिए था। इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »